क्या है 86वीं वर्षगांठ पर भारतीय वायुसेना द्वारा चलाए जाने वाला #IAFQuiz2018 कम्पीटीशन

भारतीय वायुसेना आने वाले 8 अक्टूबर 2018 को अपना 86वीं वर्षगांठ मनाने जा रही हैं। सभी सेनाएं अपनी वर्षगांठ के मौके पर परेड का आयोजन करती है। हर बार परेड में शामिल होने हज़ारों लोग आते है।किसी को परेड में जाने का पास मिलता है तो किसी को निराशा हाथ लगती है।लेकिन इस बार की परेड में शामिल होने के लिए आपको ज्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

भारतीय वायुसेना अपने 86वीं वर्षगांठ के मौके पर #IAFQuiz2018 नाम का क्विज़ कम्पटीशन करवा रही है। 24 सितम्बर से 30 सितम्बर 2018 तक चलने वाले इस कम्पटीशन में भाग लेने के लिए आपको इंडियन एयर फाॅर्स के ऑफिसियल ट्विटर और फेसबुक अकाउंट पर जाना पड़ेगा और #IAFQuiz2018 टैग नाम से चल रहे कम्पटीशन में भाग लेना होगा।भारतीय वायुसेना द्वारा पूछे जा रहे सारे प्रश्नों के सही ज़वाब देना होगा।

हांलाकि भारतीय वायुसेना ने इस कम्पटीशन के लिए प्रैक्टिस क्विज प्रारम्भ कर दिया है। जिससे आपको क्विज में पूछे जाने वालों प्रश्नों के बारे में अंदाज़ा लग जाएगा।

जितने वाले को क्या मिलेगा ?
6 दिन तक चलने वाले इस कम्पटीशन में टॉप 25 विजेताओं को भारतीय वायुसेना के 86th वे परेड समारोह में जाने का पास मिलेगा और इनाम से नवाज़ा जायेगा।

READ MORE: राफेल से पहले कितने फाइटर प्लेन की डील हुए है, भारत सरकार और डसाल्ट एविएशन के बीच

आखिर क्यों 8 अक्टूबर 1932 को मनाते है                                                                                                                                       भारतीय वायुसेना दिवस की स्थापना 8 अक्टूबर 1932 को हुई थी। इसी मौके को याद करते हुए हर साल इस दिन को भारतीय वायुसेना दिवस के रूप में मनाया जाता है।वायुसेना भारतीय सशस्त्र सेना का एक अंग है जो वायु युद्ध, वायु सुरक्षा, और वायु चौकसी का महत्वपूर्ण काम देश के लिए करती है। आजादी से पहले इसे रॉयल इंडियन एयरफोर्स के नाम से जाना जाता था मगर बाद में इसके नाम से रॉयल शब्द को हटा दिया गया।भारतीय वायुसेना दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना है।अमेरिका, चीन और रूस के बाद भारत में सबसे बड़ी वायुसेना मौजूद है।भारतीय वायुसेना के 60 से ज्यादा एयरबेस हैं जो देश के हर कोने में स्थित हैं।

  • 33
    Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *